भीगी मिट्टी की महक प्यास बढ़ा देती है;
दर्द बरसात की बूँदों में बसा करता है!
~ Marghub Ali
Picture SMS 100286
ख़ुदा की इतनी बड़ी काएनात में मैंने;
बस एक शख़्स को माँगा मुझे वही न मिला!
~ Bashir Badr
Picture SMS 100254
तुम ज़माने की राह से आए;
वर्ना सीधा था रास्ता दिल का!
~ Baqi Siddiqui
Picture SMS 100253
क्या मस्लहत-शनास था वो आदमी 'क़तील';
मजबूरियों का जिस ने वफ़ा नाम रख दिया!
~ Qateel Shifai
Picture SMS 100238
तंग आ चुके हैं कशमकश-ए-ज़िंदगी से हम;
ठुकरा न दें जहाँ को कहीं बे-दिली से हम!
~ Sahir Ludhianvi
Picture SMS 100237
चल हो गया फैंसला कुछ कहना ही नहीं;
तू जी ले मेरे बगैर मुझे जीना ही नहीं!
Picture SMS 100187
तकलीफ ये नहीं कि किस्मत ने मुझे धोखा दिया;
मेरा यकीन तुम पर था किस्मत पर नहीं!
Picture SMS 100186
और भी दुख हैं ज़माने में मोहब्बत के सिवा;
राहतें और भी हैं वस्ल की राहत के सिवा! x
~ Faiz Ahmad Faiz
Picture SMS 100152
एक दीवाने को जो आए हैं समझाने कई;
पहले मैं दीवाना था और अब हैं दीवाने कई!
~ Nazeer Banarsi
Picture SMS 100151
यहाँ लिबास की क़ीमत है आदमी की नहीं;
मुझे गिलास बड़े दे शराब कम कर दे!
~ Bashir Badr
Picture SMS 100121
Analytics