रहने दो मुझे यूँ ही उलझा हुआ सा अपने सब दोस्तों में;
सुना है सुलझ जाने के बाद धागे अलग-अलग हो जाते हैं!
Picture SMS 88898
दोस्तों के दिल में रहने की इज़ाज़त नहीं मांगी जाती;
ये तो वो जगह है जहां कब्जा किया जाता है!
Picture SMS 88846
उम्र को हराना है, तो शौक़ ज़िंदा रखिए;
कुछ ही दोस्त रखिये, मगर चुनिन्दा रखिये।
Picture SMS 88603
हर मर्ज़ का इलाज नहीं दवाखाने में;
कुछ दर्द चले जाते है, परिवार और दोस्तो के साथ मुस्कुराने मे!
Picture SMS 86663
रहने दो मुझको यूँ उलझा हुआ सा अपने सब दोस्तों में;
सुना है सुलझ जाने से धागे अलग अलग हो जाते हैं!
Picture SMS 86634
दुश्मन के सितम का ख़ौफ़ नहीं हमको;
हम तो दोस्तों के रुठ जाने से डरते हैं।
Picture SMS 84795
खुदा के घर से चंद फरिश्ते फरार हो गये;
कुछ पकड़े गये कुछ हमारे यार हो गये!
Picture SMS 83931
अब ना मैं हूँ, ना बाकी हैं ज़माने मेरे,
फिर भी मशहूर हैं, शहरों में फ़साने मेरे;
ज़िंदगी है तो नए ज़ख्म भी लग जाएंगे,
अब भी बाकी हैं कई दोस्त पुराने मेरे|
~ Rahat Indori
Picture SMS 83784
एक हसीन पल की जरूरत है हमें;
बीते हुए कल की जरूरत है हमें;
सारा जहाँ रूठ गया हमसे;
जो कभी ना रूठे ऐसे दोस्त की जरूरत है हमें!
Picture SMS 81602
यादों से ज़िन्दगी खूबसूरत रहेगी;
निगाहों में हर पल ये सूरत रहेगी;
कोई ना ले सकेगा कभी आपकी जगह;
इस दोस्त को हमेशा आपकी ज़रुरत रहेगी!
Picture SMS 81033
Analytics