मेरे पलकों मे भरे आँसू उन्हें पानी सा लगता है;
हमारा टूट कर चाहना उन्हे नादानी सा लगता है!
Picture SMS 94637
गिरते हुऐ अश्क की कीमत न पूछना;
इश्क़ के हर बूंद में लाखों सवाल होते हैं!
Picture SMS 93606
अब ये हसरत है कि सीने से लगाकर तुझको;
इस क़दर रोऊँ की आंसू आ जाये!
Picture SMS 92731
ख्यालों में मेरे कभी आप भी खोये होंगे,
खुली आँखों से कभी आप भी सोये होंगे,
माना हँसी अदा है गम भुलाने की लेकिन,
हँसते-हँसते कभी आप भी रोये होंगे।
Picture SMS 90989
आँखों से छलकती मोहब्बत को यूँ अल्फ़ाज़ मिलते है,
जो गिरे आँखों से दो बुँदे वो भी तो प्यार बयां करते है!
Picture SMS 89661
कतरे - कतरे की प्यास बुझाई है;
हमने आँख सहरा में भी बरसाई है!
Picture SMS 89444
उभर फिर पुराना इक ग़म आ गया है;
आँखों में बरसात का मौसम आ गया है!
Picture SMS 89386
दिल से तो कई मौसम गुज़र जाते हैं;
आँखों से मगर बरसात नहीं जाती!
Picture SMS 89168
रोकने की कोशिश तो बहुत की पलकों ने, मगर;
इश्क में पागल थे आँसू, ख़ुदकुशी करते चले गए!
Picture SMS 88174
सोचा न था जिंदगी में​ ऐसे भी फ़साने होंगे;
रोना भी जरूरी होगा और आसूँ भी छुपाने होंगे।
Picture SMS 87388
Analytics