ख्यालों में मेरे कभी आप भी खोये होंगे,
खुली आँखों से कभी आप भी सोये होंगे,
माना हँसी अदा है गम भुलाने की लेकिन,
हँसते-हँसते कभी आप भी रोये होंगे।
Picture SMS 90989
आँखों से छलकती मोहब्बत को यूँ अल्फ़ाज़ मिलते है,
जो गिरे आँखों से दो बुँदे वो भी तो प्यार बयां करते है!
Picture SMS 89661
कतरे - कतरे की प्यास बुझाई है;
हमने आँख सहरा में भी बरसाई है!
Picture SMS 89444
उभर फिर पुराना इक ग़म आ गया है;
आँखों में बरसात का मौसम आ गया है!
Picture SMS 89386
दिल से तो कई मौसम गुज़र जाते हैं;
आँखों से मगर बरसात नहीं जाती!
Picture SMS 89168
रोकने की कोशिश तो बहुत की पलकों ने, मगर;
इश्क में पागल थे आँसू, ख़ुदकुशी करते चले गए!
Picture SMS 88174
सोचा न था जिंदगी में​ ऐसे भी फ़साने होंगे;
रोना भी जरूरी होगा और आसूँ भी छुपाने होंगे।
Picture SMS 87388
जो ज़रा किसी ने छेड़ा छलक पड़ेंगे आँसू;
कोई मुझ से यूँ न पूछे तेरा दिल उदास क्यों है!
Picture SMS 86986
मेरी आंखों में आँसू हैं ना होठों पे तबस्सुम है;
समझ में क्या किसी की आयेगी तर्ज़-ए-फुगां मेरी!
~ Shamsi Meenai
Picture SMS 85762
रगों में दौड़ते फिरने के हम नहीं कायल;
जब आँख से ही न टपका तो फिर लहू क्या है।
~ Mirza Ghalib
Picture SMS 84252
Analytics