न जी भर के देखा न कुछ बात की;
बड़ी आरज़ू थी मुलाक़ात की!
Picture SMS 101474
मैं वक़्त बन जाऊं तू बन जाना कोई लम्हा;
मैं तुझमें गुजर जाऊं तू मुझमें गुजर जाना!
Picture SMS 101458
इक छोटी सी ही तो हसरत है इस दिल ए नादान की;
कोई चाह ले इस कदर कि खुद पर गुमान हो जाए!
Picture SMS 101216
काश एक ख्वाहिश पूरी हो इबादत के बगैर;
वो आके गले लगा ले मेरी इजाजत के बगैर!
Picture SMS 100586
आँखों में तेरी डूब जाने को दिल चाहता है,
इश्क में तेरे बर्बाद होने को दिल चाहता है,
कोई संभाले बहक रहे है मेरे कदम,
वफ़ा में तेरी मर जाने को दिल चाहता है!
Picture SMS 100512
ख्वाहिश तो थी मिलने की पर कभी कोशिश नहीं की;
सोचा जब खुदा माना है उसको तो बिन देखे ही पूजेंगे!
Picture SMS 100096
मैं हर रात सारी ख्वाहिशों को खुद से पहले सुला देता हूँ;
मगर रोज़ सुबह यह मुझसे पहले जाग जाती हैं!
~ Gulzar
Picture SMS 99599
आरज़ू है कि तू यहाँ आए;
और फिर उम्र भर न जाए कहीं!
~ Nasir Kazmi
Picture SMS 99554
हज़ारों ख्वाहिशें ऐसी कि हर ख्वाहिश पे दम निकले;
बहुत निकले मिरे अरमान लेकिन फिर भी कम निकले!
~ Mirza Ghalib
Picture SMS 99485
तेरे गमों को तेरी ख़ुशी कर दें,
हर सुबह तेरी दुनिया में रौशनी भर दें;
जब भी टूटने लगें तेरी साँसे,
खुदा तुझमें शामिल मेरी जिंदगी कर दे।
Picture SMS 99044
Analytics