मैं भी ठहरूँ किसी के होंठों पे;
काश कोई मेरे लिए भी दुआ कर दे!
Picture SMS 85079
कोई हाथ भी न मिलाएगा, जो गले मिलोगे तपाक से;
ये नए मिजाज का शहर है, जरा फ़ासले से मिला करो।
~ Bashir Badr
Picture SMS 85052
खामोश लबों से निभाना था ये रिश्ता;
पर धड़कनों ने चाहत का शोर मचा दिया।
Picture SMS 85025
अच्छा है दिल के साथ रहे पासबान-ए-अक़्ल;
लेकिन कभी कभी इसे तन्हा भी छोड़ दे!

पासबान = चौकीदार, गार्ड
~ Allama Iqbal
Picture SMS 84889
बहुत खास होते हैं वो लोग जो आपकी आवाज़ से;
आपकी खुशी और दुख का अंदाज़ा लगा लेते हैं!
Picture SMS 84868
कभी-कभी यूँ ही चले आया करो दिल की दहलीज पर;
अच्छा लगता है, यूँ तन्हाइयों में तुम्हारा दस्तक देना।
Picture SMS 84794
अगर नए रिश्ते न बनें तो, मलाल मत करना;
पुराने टूट ना जायें बस, इतना ख्याल रखना।
Picture SMS 84646
अब उतर आये हैं वह तारीफ पर,
हम जो आदी हो गये दुश्नाम के।
~ Daagh Dehlvi
Picture SMS 84496
ठिकाना कब्र है तेरा, इबादत कुछ तो कर ग़ाफिल;
कहावत है कि खाली हाथ किसी के घर जाया नहीं करते।
Picture SMS 84418
कुछ खटकता तो है पहलू में मिरे रह रह कर;
अब ख़ुदा जाने तिरी याद है या दिल मेरा।
~ Jigar Moradabadi
Picture SMS 84396
Analytics