लब तो खामोश रहेंगे ये वादा है तुमसे मेरा;
अगर कह दें कुछ निगाहें तो खफा ना होना!
मैंने पूछा कैसे जान जाते हो मेरे दिल की बातें,
वो बोली जब रूह में बसे हो फिर ये सवाल क्यूँ।
Picture SMS 94099
मै भी तलाश में हूँ किसी अपने की;
कोई तुम सा हो लेकिन किसी और का ना हो!
Picture SMS 94003
बोसा-ए-रुख़्सार पर तकरार रहने दीजिए;
लीजिए या दीजिए इंकार रहने दीजिए!
Picture SMS 93830
एक दूसरे से बिछड़ के हम कितने रंगीले हो गये;
मेरी आँखें लाल हो गयी और तेरे हाथ पीले हो गए!
Picture SMS 93670
मेरे हम-सकूँ का यह हुक्म था के कलाम उससे मैं कम करूँ;
मेरे होंठ ऐसे सिले के फिर उसे मेरी चुप ने रुला दिया!
~ Parveen Shakir
Picture SMS 93533
तेरे बदलने के बावसफ भी तुझ को चाहा है;
यह एतराफ़ भी शामिल मेरे गुनाहों में है!
~ Parveen Shakir
Picture SMS 93425
अपने चेहरे से जो ज़ाहिर है छुपाएँ कैसे;
तेरी मर्ज़ी के मुताबिक़ नज़र आएँ कैसे!
~ Wasim Barelvi
Picture SMS 93133
फूल की पती से कट सकता है हीरे का जिगर;
मर्दे नादाँ पर कलाम-ऐ-नरम-ऐ-नाज़ुक बेअसर!
Picture SMS 92927
खुशबू की तरह आया वो तेज़ हवाओं में;
माँगा था जिसे हम ने दिन रात दुआओं में;
तुम चाट पे नहीं आये मैं घर से नहीं निकल;
यह चाँद बहुत भटकता है सावन की घटाओं में!
Picture SMS 92879
Analytics