दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बैठे,
यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बैठे;
वो हमें एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का,
और हम उनके लिये ज़िन्दगी लुटा बैठे!
Picture SMS 94610
बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ,
ख़त भी उसके पानी में बहा के आया हूँ,
कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को,
इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ।
Picture SMS 94333
तुझे करनी है बेवफाई तो इस अदा से कर;
कि तेरे बाद कोई बेवफ़ा न लगे।
Picture SMS 93957
जाते जाते उसने पलटकर सिर्फ इतना कहा मुझसे,
मेरी बेवफाई से ही मर जाओगे या मार के जाऊं।
Picture SMS 87790
नाराज़गी बहुत है हम दोनों के दरमियान;
वो गलत कहता है कि कोई रिश्ता नहीं रहा!
Picture SMS 87578
इक उम्र से हूँ लज़्जत-ए-गिरिया से महरूम;
ऐ राहत-ए-जाँ मुझ को मनाने के लिये आ!

लज़्ज़त-ए-गिरिया: रोने के सुख
महरूम: वंचित
राहत-ए-जाँ: जो जान को सुख दे, प्रियेसी
~ Ahmad Faraz
Picture SMS 87118
फिर निगाहों में धूल उड़ती है;
अक्स फिर आइने बदलने लगे!
~ Amjad Islam Amjad
Picture SMS 86987
रोकना मेरी हसरत थी, चले जाना उनका शौक;
वो शौक पूरा कर गए,मेरी हसरतें तोड़ कर!
Picture SMS 86742
तेरी राह-ए-तलब में ज़ख़्म सब सीने पे खाये हैं;
बहार-ए-ग़ुलिस्तां मेरी हयात-ए-जावेदाँ मेरी!
~ Shamsi Meenai
Picture SMS 85968
अपने मन में डूब कर पा जा सु्राग़-ए-ज़िन्दगी;
तू अगर मेरा नहीं बनता न बन, अपना तो बन!
~ Allama Iqbal
Picture SMS 85667
Analytics