ये आईने क्या दे सकेंगे तुम्हे तुम्हारी शख्सियत की खबर;
कभी हमारी आँखो से आकर पूछो कितने लाजवाब हो तुम!
Picture SMS 96212
झुकी झुकी नजर तेरी कमाल कर जाती है;
उठती है एक बार तो सवाल कर जाती है!
Picture SMS 95947
वो चाँद है तो अक्स भी पानी में आएगा;
किरदार ख़ुद उभर के कहानी में आएगा!
~ Iqbal Sajid
Picture SMS 95870
उस के चेहरे की चमक के सामने सादा लगा;
आसमाँ पे चाँद पूरा था मगर आधा लगा!
~ Iftikhar Naseem
Picture SMS 95834
एक तिल का पहरा भी जरूरी है, लबो के आसपास,
मुझे डर है कहीं तेरी मुस्कुराहट को, कोई नज़र न लगा दे|
Picture SMS 92003
हुजूर लाजमी है महफिलों मे बवाल होना;
एक तो हुस्न कयामत उस पे होठो का लाल होना!
Picture SMS 90512
नींद से क्या शिकवा जो आती नहीं रात भर,
कसूर तो उस चेहरे का है जो सोने नहीं देता।
Picture SMS 89942
मैं हूँ अगर आवारा तो वजह है हुस्न तुम्हारा,
ऐसा मैं हरगिज़ नहीं था तेरे दीदार से पहले!
Picture SMS 88030
बड़ी फुर्सत से बनाया है तेरे खुदा ने तुझे;
वरना सुरत तेरी इस कदर ना चाँद से मिलती!
Picture SMS 88009
नसीम-ए-सुबह बू-ए-गुल से क्या इतराती फिरती है,
जरा सूंघ-ए-शमीम-ए-जुल्फ खुश्बू इसको कहते हैं।

1. नसीम-ए-सुबह - सुबह चलने वाली ठंडी और धीमी हवा
2. शमीम - सुगन्ध, खुश्बू, महक
~ Anwar Allahabadi
Picture SMS 84596
Analytics