सोचो अगर डॉक्टर फिल्म बनाते तो फिल्मों के नाम क्या होते?

कभी खांसी कभी जुखाम।

कहो न बुखार है।

टीबी नंबर 1।

हम ब्लड दे चुके सनम।

रहना है अब हॉस्पिटल में।

बचना अय मरीजों।

दिल तो कमजोर है।

एक हसीना दो किडनी।

अजब मरीजों की गजब बीमारी।
एक ट्रेन मेँ एक पंडित एक गुज्जर एक बनिया और एक जाट सफर कर रहे थे।

पंडित ने रौब झाडते हुऐ 100 का नोट निकाला और उस पर तम्बाकू डाल कर उसको बीडी बना कर पीने लगा।

फिर गुज्जर ने 500 का नोट निकाला उसने भी पंडित की तरह बीडी बनायी और पीने लगा।

अब बनिया कहाँ पीछे रहने वाला था, उसने 1000 का नोट निकाला और बीडी बनाकर पीने लगा।

अब आ गयी जाट की बारी।

जाट ने चेकबुक निकाली एक करोड की रकम भर के चेक की बीडी बनायी और पीने लगा।

सब बेहोश और जाट मदहोश!
Analytics