Download Fastest Browser, FREE. Click Here
तीन लड़कियां मरने के बाद स्वर्ग के द्वार पर पहुँचती है, इससे पहले कि वह अन्दर जाती उन्हें यमदूत रोक लेता है!

यमदूत उन्हें कहता है कि अगर अन्दर जाना है तो पहले तुम्हें मेरे एक सवाल का जवाब देना पड़ेगा!

यमदूत पहली लड़की से पूछता है कि क्या तुम अच्छी लड़की हो?

लड़की कहती है, बिल्कुल मैं एक अच्छी लड़की हूँ! मैं शादी से पहले भी कुंवारी थी और शादी के बाद भी कुंवारी ही हूँ!

यमदूत ने कहा बहुत अच्छे और उसे एक सोने की चाबी दी और उसे अन्दर भेज दिया!

फिर दूसरी लड़की से पूछा क्या तुम एक अच्छी लड़की हो?

लड़की कहती है हाँ मैं एक अच्छी लड़की हूँ, मैं शादी से पहले कुंवारी थी पर शादी के बाद कुंवारी न रह पाई!

यमदूत ने उसे कहा बहुत अच्छे और एक चाँदी की चाबी दी और अन्दर भेज दिया!

फिर यमदूत ने तीसरी लड़की को पूछा क्या तुम अच्छी लड़की हो?

लड़की ने कहा बिल्कुल भी नही, मैं शादी से पहले जिससे भी मिलती थी उसके साथ खुलकर सहवास करती और शादी के बाद भी यही सिलसिला था!

यमदूत ने कहा ये तो बहुत बढ़िया है ...ये लो ये लो तुम मेरे कमरे की चाबी रखो!
एक धार्मिक आदमी और एक नास्तिक दोनों पड़ोसी थे!

धार्मिक आदमी एक दिन जोर से चिल्ला रहा था हे भगवान! मेरे लिए खाना भेजो!

नास्तिक आदमी ने जब ऐसा सुना तो उसने उसके पास जाकर कहा कि भाई कोई भगवान नही है!

अगली सुबह जब वह धार्मिक व्यक्ति जागा तो बाहर आँगन में उसने देखा कि किसी ने खाने पीने के सामान से भरा बैग रखा था!

वह फिर जोर से चिल्लाया हे भगवान! तुम्हारा बहुत धन्यवाद कि तुमने मेरे लिए खाना भेज दिया!

जब वह हाथ जोड़ कर खड़ा था तभी ब्रुश करता हुआ नास्तिक आदमी उसके सामने आया और कहने लगा अरे ये सब तुम्हारे भगवान ने नही भेजा ये सब मैंने रखा है!

बिना समय गवाए धार्मिक आदमी फिर से चिल्लाया हे भगवान! इस खाने के लिए धन्यवाद जिसके लिए तुमने इस शैतान को पैसे खर्चने के लिए प्रेरित किया!
Analytics