नेता का बेटा अपने पिता से बोला, "पापा मुझे भी राजनीति में आना हैं, मुझे कुछ टिप्स दो।"

नेता: बेटा, राजनीति के तीन कठोर नियम होते हैं। चलो सबसे पहले मैं तुम्हें पहला और सबसे अहम नियम समझाता हूँ। यह कहकर नेता जी ने बेटे को छत पर भेज दिया और ख़ुद नीचे आकर खड़ा हो गया।

नेता जी: छत से नीचे कूद जाओ।

बेटा: पापा, इतनी ऊंचाई से कुदूंगा तो हाथ पैर टूट जायेंगे।

नेता जी: बेझिझक कूद जा, मैं हूँ ना, पकड़ लूँगा।

लड़के ने हिम्मत की और कूद गया, पर नेताजी नीचे से हट गए।

बेटा धड़ाम से औंधे मुंह गिरा और कराहते हुए बोला, "आपने तो कहा था मुझे पकड़ोगे, फिर हट क्यों गए?"

नेता जी: ये है पहला सबक, "राजनीति में अपने बाप का भी भरोसा मत करो।"
संबित पात्रा: मोदी जी ने पाकिस्तान पर हमला कर 350 आतंकी मार दिये!

राजीव तयागी: तो इसमें कौन सी बड़ी बात है, मनमोहन सिंह ने तो पाकिस्तान में घुसकर हमला करके 1 लाख आतंकवादी मार दिये थे।

संबित पात्रा: हमने तो ना सुना ना देखा!

राजीव तयागी: क्योंकि वो मोदी की तरह बोलते नहीं थे ना!

संबित पात्रा: सुबूत क्या है?

राजीव: ये लो, सेना की कार्यवाही पर अब तुम्हें सुबूत चाहिए, गद्दार, देशद्रोही, पाकिस्तानी हो तुम!

संबित पात्रा: ये क्या बकवास कर रहे हो?

राजीव तयागी: शुरू किसने किया?
Analytics