एक बार कचहरी में एक गवाह बहुत लम्बे लम्बे बयान दे रहा था जिस कारण सरकारी वकील नाराज हो गया और गवाह से बोला, "इतना अधिक बोलने की जरूरत नहीं है। तुमसे जो पूछा जाये उसका जवाब केवल हाँ या ना में ही दो।"

गवाह: लेकिन हुजूर हर सवाल का जवाब हाँ या ना में नहीं दिया जा सकता।

वकील: क्यों नहीं दिया जा सकता, बिलकुल दिया जा सकता है। तुम मुझसे कोई भी सवाल पूछो मैं केवल हाँ या ना में जवाब देकर दिखाता हूँ।

गवाह: तो ठीक है हुजूर आपकी ज़िद्द पर मैं आपसे एक सवाल पूछता हूँ। आप सिर्फ हाँ या ना में ही जवाब दीजियेगा।

वकील: ठीक है पूछो।

गवाह: अच्छा बताइये कि आपकी बीवी ने आपको पीटना छोड़ दिया या नहीं?

बेचारे वकील बाबू अब तक कोमा में हैं।
वैलेंटाइन डे के पहले दिन गिफ्ट शॉप पर वकील साहब मिल गए। वो 40 कार्ड ले रहे थे। सब पर उन्होंने भेजने वाले की जगह लिखा -

`तुम्हारी जान !! पहचान गए ना? शाम को मिलो। लव यू।`

पूछने पर बताया - पिछले वैलेंटाइन डे पर आस पास की कालोनी में ऐसे ही 20 कार्ड भेजे थे। कुछ ही दिन में तलाक के चार केस मिल गए थे। इस बार 40 कार्ड भेज रहा हूँ।

धन्धे में सब जायज है।
Analytics