थप्पड़ के दमदार प्रदर्शन पर तापसी ने कहा 'उम्मीद नहीं थी'
पिछले कुछ सालों में बॉलीवुड में फीमेल सेंट्रिक फिल्मों का चलन काफी बढ़ा है. 'क्वीन', 'राज़ी' और 'सांड की आँख' जैसी फिल्मों की कामयाबी ने बॉलीवुड सितारों और निर्देशकों को वीमेन सेंट्रिक फ़िल्में बनाने का कॉन्फिडेंस दिया है. आज के दौर में जहाँ कंटेंट ही किंग है वहां अगर अछि कहने पेश की जाए तो दर्शक उसे अच्छा रेस्पौंस ज़रूर देते हैं. इस साल भी अब तक 'छपाक', 'पंगा' और 'थप्पड़' अब तक सिनेमाघरों में दस्तक दे चुकी हैं और सभी फिल्मों की तारीफ भी हुई.

हाल ही में 'थप्पड़' के बारे में बात करते हुए तापसी पन्नू ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा की चाहे क्रिटिक ने सभी फिल्मों की सराहना की लेकिन उन्हें बिलकुल उम्मीद नहीं थी की ये फ़िल्में अच्छी कमाई कर पाएंगी. तापसे ने कहा की "दीपिका और कंगना की वुमन सेंट्रिक फिल्मों 'छपाक' और 'पंगा' ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छी कमाई की लेकिन हमने कभी ये नहीं सोचा था की हमारी फिल्म थप्पड़ का कलेक्शन भी उनकी फिल्मों के बराबर होगा. हालांकि ख़ुशी इस बात की है की तीनो ही फिल्मों को काफी सराहा गया".

साथ ही तापसी ने ये भी कहा की "ये काफी डरावना हो जाता है जब क्रिटिक्स आपकी हर फिल्म को पिछली से बेहतर बताएं और टॉप घोषित कर दें. क्यूंकि फिर आपके दिमाग में उस कामयाबी को जारी रखने का प्रेशर बन जाता है. क्यूंकि एक बार अगर आप टॉप पर पहुँच गए तो फिर आपसे नीचे आने की उम्मीद नहीं की जाती". बता दें की तापसी की आखिरी फिल्म अनुभव सिन्हा की 'थप्पड़' थी जिसमे वे पवैल गुलाटी के साथ नज़र आई थी. फिल्म को काफी तारीफ मिली थी और इसने अच्छी कमाई भी की.
Analytics